कहानी - कभी भी गलत तरीके से धन ना कमाये

कहानी - कभी भी गलत तरीके से धन ना कमाये


एक व्यक्ति नदी के पुल से कहीं जा रहा था । वह किसी फैक्ट्री का कर्मचारी था और एक बार वह यात्रा पर निकला था । रास्ते में वो थोड़ी देर आराम करने के लिए रुका और एक पत्थर पर बैठा । आराम कर ही रहा था कि यकायक उसके पास जो ब्रीफकेस था वह पानी गिर पड़ा ।

ब्रीफकेस तो अधिक कीमती न था , पर उसके अंदर जरूरी कागजात थे । बेचारा रोने लगा गुहार लगाने लगा कि कोई पानी में से ब्रीफकेस निकाल दे । उसके रोने की आवाज सुनकर जल देवता वहाँ प्रकट हो गए । जल देवता ने पूछा क्या हुआ भाई उसने कहा मेरी ब्रीफकेस पानी में गिर गई है आप उसे निकाल दें । 

जल देवता पानी में गये और सुंदर - सी चमड़े की ब्रीफकेस निकालकर ले आए और पूछा क्या यही तुम्हारा ब्रीफकेस है आदमी ने कहा नहीं , यह मेरी ब्रीफकेस नहीं है वह ईमानदार था । 

जल देवता फिर पानी में गए और इस बार एक सुंदर और मजबूत ब्रीफकेस लेकर आए जिसमें रुपये भी भरे थे । ब्रीफकेस खोलकर दिखाते हुए पूछा - क्या यह आपकी ब्रीफकेस है ? उसने कहा नहीं - नहीं यह भी मेरी ब्रीफकेस नहीं है , मेरी ब्रीफकेस तो रेग्जीन की है , जिसके भीतर रुपये नहीं , मेरे कागज हैं ।

जल देवता भीतर गए और उसकी वही रेग्जीन की ब्रीफकेस लेकर आ गए और पूछा क्या यह है ? उसने तपाक से कहा हाँ हाँ यही है ।

जल - देवता उसकी ईमानदारी से इतने खुश हुए कि उसकी वास्तविक ब्रीफकेस के साथ वे अन्य दोनों ब्रीफकेस भी दे दी । घर आकर उसने अपनी पत्नी को सारी बातें बताई । पत्नी खुश हो गई कि कितने अच्छे जल देवता
है । उसकी नीयत डोल गई । उसने कहा चलो मैं भी चलूंगी नदी पर ।  

उसने सोचा सोने की चूड़ी डालकर हिरे की ले आऊंगी । पति - पत्नी दोनों नदी पर पहुंचे । जैसे ही दोनों बैठने लगे। पहले तो ब्रीफकेस गिरी थी इस बार तो पत्नी ही गिर गई । पति दुःखी होकर रोने लगा , पुकारने लगा कि कोई
उसकी पत्नी को बचा ले । 

तभी जल के देवता प्रकट हुए और पूछा वत्स ! क्या हुआ ? उसने कहा पत्नी के कहने पर लोभवश मैं फिर आ गया था लेकिन इस बार तो मेरी पत्नी ही गिर गई । जल देवता इस बार मेरी पत्नी को निकालकर ला दीजिए । 

जल के देवता भीतर गए और ऐश्वर्या को बाहर निकालकर लाए और पूछा यह है तुम्हारी पत्नी है उसने कहा हाँ , यही है । ऐश्वर्या को उसने अपने पास रख लिया । 

जल देवता ने कहा भैय्या पिछली बार जब मैं नोटों से भरा ब्रीफकेस लेकर आया था तब तो तुम्हारे मन में पाप नहीं आया , तुम सच बोलते रहे , लेकिन इस बार झूठ कैसे बोल गया ? तेरी पली तो अभी पानी में है । 

उसने कहा जल देवता अब आपसे क्या छिपाना । पहले आप ब्रीफकेस लाए थे और इस बार ऐश्वर्या को लाए अगर मैं कहता यह नहीं है तो आप माधुरी को ले आते और मैं कहता यह भी नहीं है तो तीसरी बार में आप मेरी असली पत्नी को ले आते और जैसे तीन ब्रीफकेस दिये थे वैसे ही इनको मुझे सौंप देते । 

अगर मैं तीनों को घर ले जाता तो मुझे क्या अपनी जिंदगी नरक नहीं बनानी थी जल के देवता !

इसलिए ना कभी गलत ढंग से पैसे कमाये और ना कभी किसी और को कमाने दे और हमेसा अपने संस्कारो पर चले जिससे की आपका घर सुखमय होगा | 

इन्हे भी पढ़े

Post a Comment

0 Comments