जीवन में सफल होने के लिए इन चार चीजों को कभी मत भूलना

जीवन में सफल होने के लिए इन चार चीजों को कभी मत भूलना


हर इंसान अपने जीवन में सफल होने के लिए किसी भी हद तक जा सकता है कभी कभी इंसान इस हद तक गिर जाता है की उसे अपनी सफलता या फिर यह कह लो की किसी चीज को पाने की लिए वो अच्छे और बुरे में भी फर्क करना भूल जाता है इसलिए आज मै जिन चार चीजों के बारे में आपको बताने जा रहा हु अगर आप उनमे से किसी भी चीज को अपने जीवन में अहमियत देने से भूल जाते है या फिर उनका अनादर करते है तो आप अपने जीवन मे कभी भी सफल नहीं हो सकते हो | 

माँ-बाप 

एक बात हमेशा याद रखना की आपके जीवन में आपके लिए जो इंसान हमेशा सोचता रहता है वो है आपके पिता और जो इंसान आपके लिए हमेशा दुआ करती रहती है वो है आपकी माँ इसलिए इस दुनिया मे ऐसी कोई चीज नहीं बनी है जो की आपके माँ बाप की बराबरी कर सके | 
आपकी माँ तुम्हे 9 महीने अपने कोक में रखती है और अपने मुँह का हर निवाला तुम्हे खिलाती है और तुम्हारे पिता तुम्हे हर वो चीज लाकर देते है जो तुम्हारे जबान पर होती है इसलिए अगर जिंदगी में कुछ भी बनना चाहते हो या जो कुछ भी हासिल करना चाहते हो तो हमेशा अपने माता पिता को साथ में रख कर करे | 


गुरु

गुरु एक ऐसा शब्द है जो की अपने आप मे ही एक संसार है एक व्यक्ति के जीवन मे दूसरा जो सबसे अहम व्यक्ति होता है वो होता है गुरु अगर किसी व्यक्ति के माता और पिता नहीं है तो वो फिर भी  जीवन मे सफलता को हासिल कर सकता है लेकिन अगर किसी व्यक्ति को उसके जीवन में एक सही गुरु मिल जाये तो वो अवस्य ही सफल होता है याद रखना की नामुमकिन को जो मुमकिन करदे वो होता है गुरु और जो बिना साबुन के एक व्यक्ति के सारे पाप मिटा दे और उसके हर अवगुण को मिटा दे वो होता है गुरु | 
इसलिए अगर आपके जीवन मे एक ऐसा व्यक्ति नहीं है जो की आपको सही राह दिखा सके तो सबसे पहले उस व्यक्ति को ढूंढिए | 
यह जरुरी नहीं की आपका गुरु आपसे बड़ा ही हो बस आपको यह ध्यान में रखना है की वह आदमी जिसे आप अपना गुरु मानते हो वो आपको हमेशा सही राह दिखाए 


पति-पत्नी 

माता पिता और गुरु के बाद जो तीसरी जो सबसे महत्वपूर्ण चीज होती है वो है हमारी पत्नी या पति यह वो इंसान होता है जो की आपके साथ हमेशा खड़ा होता है अगर पति देर रात घर आता है तो पत्नी हमेशा अपने पति की राह देखती है और पति के घर आने के बाद ही खाना खाती है वैसे ही पति अपने पत्नी की हर छोटी से छोटी जरुरत को पूरा करता है इसलिए अगर आप एक पुरुष है तो आपको एक अच्छी पत्नी की जरुरत है और अगर आप एक औरत है तो आपको एक अच्छे पति की जरुरत है | 


मित्र या दोस्त

मित्र या दोस्त यह दुनिया का सबसे शक्तिसाली शब्द है एक व्यक्ति जिसके पास एक सच्चा मित्र है उससे भागयशाली इस संसार में और कोई नहीं है क्योकि पत्नी को चयन करने में हमारा पूरा हाथ नहीं होता है लेकिन मित्र को चयन करने में सिर्फ और सिर्फ हमारा ही हाथ होता है | 
हमारा आचरण और हमारा व्यव्हार सिर्फ और सिर्फ हमारे आसपास के व्यक्ति से ही बदलता है  एक बार के लिए हम अपने माता पिता और अपने पत्नी और पति की बात भी ताल सकते है लेकिन अपने दोस्त की बात कभी नहीं | 

मित्र वो इंसान होता है जो हमारे सुख और दुःख दोनों का समान भागीदार होता है इसलिए अगर आपके पास एक सच्चा मित्र नहीं है तो पहले एक सच्चा मित्र बनाओ क्योकि माता पिता गुरु और पत्नी यह सब तो हमें समय समय पर मिल ही जायेगे लेकिन एक मित्र और दोस्त हमें ढूंढ़ने से भी नहीं मिलता है | 


अगर आपके पास इन चारो चीजों में से किसी भी एक चीज का अभाव है तो पहले आप उसको पूरा करे और निस्चय ही आप एक दिन जरूर सफल होंगे | 

Post a Comment

0 Comments